SMS का फुल फॉर्म क्या है? – SMS full form in Hindi & English

SMS का फुल फॉर्म क्या है? – SMS full form in Hindi & English:- SMS का फुल फॉर्म Short Message Service होता है। यह एक ऐसा प्रोटोकॉल से जिससे आप टेक्स्ट में माध्यम से किसी भी बात कर सकते हैं या फिर किसी आवश्यक टेक्स्ट को भेज सकते हैं। एक समय ऐसा था जब SMS का इस्तेमाल चैटिंग करने के लिए काफी ज्यादा किया जाता था लेकिन इंटरनेट की क्रांति ने Short Message Service का इस्तेमाल काफी कम कर दिया है। आज लोग whatsup जैसे application की मदद से टेक्स्ट भेजने लगे हैं जिसकी वजह से SMS का इस्तेमाल कम हो गया है। SMS को किसी भी फ़ोन, स्मार्ट फ़ोन या कंप्यूटर से भी send किया जा सकता है।

आपको बता दें कि आप एक SMS में ज्यादा से ज्यादा 160 अल्फा-न्यूमेरिक करैक्टर text सेंड किया जाता है। आज बहुत सारे मोबाइल नेटवर्क जैसे CDMA, TDMA और GSM आपको Short Message Service भेजने की सर्विस देते हैं।

SMS का फुल फॉर्म क्या है? – SMS full form in Hindi & English

SMS का फुल फॉर्म क्या है? – SMS full form in Hindi & English

SMS का इतिहास (History of SMS in Hindi)

SMS को सबसे पहले यूनाइटेड किंगडम में 1980 के दशक के अंत में विकसित किया गया था। सबसे पहले SMS को 1984 में फ्रेंको-जर्मन GSM सहयोग में फ्रेडहेल्म हिलेब्रांड और बर्नार्ड गिलेबर्ट द्वारा विकसित किया गया था और इसके बाद सबसे पहला SMS 3 दिसंबर 1992 को भेजा गया था। बता दें कि उस समय मोबाइल फ़ोन में SMS भेजने के लिए कीबोर्ड नहीं होते थे। इसलिए Neil Papworth को यह SMS कंप्यूटर पर टाइप करना पड़ा था। जो पहला मेसेज भेजा गया था उसका टेक्स्ट था Merry Christmas।”

शुरुआत में GSM मोबाइल फ़ोन हैंडसेट में टेक्स्ट संदेश भेजने की क्षमता का नहीं थी। नोकिया पहला हैंडसेट निर्माता था जिसने 1993 में GSM के जरिये SMS भेजने की सुविधा प्रदान की और 1997 में यह keyword के साथ मोबाइल फोन बनाने वाली पहली कंपनी बन गई।

SMS के लाभ (Advantages of SMS in Hindi)

  • SMS का सबसे बड़ा फायदा यह है कि इससे आप जो भी टेक्स्ट भेजते हैं वो एक दम सुरक्षित रहता है। SMS के माध्यम से आप कोई भी गोपनीय जानकारी सुरक्षित रूप से किसी भी अन्य मोबाइल नंबर पर भेज सकते हैं।
  • सबसे खास बात यह है कि SMS को सेंड करने के लिए आपको इंटरनेट डाटा की जरूरत नहीं पड़ती। आप अपने किसी भी पुराने से पुराने फ़ोन से भी किसी को भी SMS भेज सकते हैं।
  • जब आप किसी को SMS भेजते हैं तो उस मेसेज को तब तक रखा जा सकता है जब तक रिसीवर उसे अपने फ़ोन से डिलीट न कर दे।
  • SMS भेजने के लिए आपको फंक्शन पहले से ही मोबाइल में दिया जाता है, जिसकी वजह से आपको किसी भी application इनस्टॉल करने की जरूरत नहीं पड़ती।
  • अगर आप किसी को कॉल नहीं कर पा रहे तो SMS के जरिये उसे अपनी बात कह सकते हैं।

SMS की सीमाएं (Disadvantages of sms in Hindi)

जिस तरह किसी चीज़ के फायदे होते हैं उसी तरह उसकी कुछ सीमाएं भी होती है। इसी तरह SMS की कुछ सीमाएं भी हैं।

  • SMS की सबसे बड़ी सीमा यह है कि एक SMS में आप 160 करैक्टर ही सेंड कर सकते हैं।
  • SMS भेजने के लिए आपको SMS रिचार्ज भी करवाना पड़ता है क्योंकि यह फ्री नहीं है।
  • जब आप किसी भी टेक्स्ट भेज देते हैं तो इसमें Unsend का कोई आप्शन नहीं है। इसका मतलब यह है कि अगर आप एक बार SMS सेंड कर देते हैं उसे unsend या डिलीट नहीं कर सकते।

Also Read:- CCC का फुल फॉर्म क्या है? – CCC full form in Hindi & English

Also Read:- SIM का फुल फॉर्म क्या है? – SIM full form in Hindi & English

SMS पर अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न -FAQ on SMS in Hindi

Question: SMS की सीमाएं क्या हैं?

GSM मानक में अधिकतम 140 बाइट्स (1120 बिट) का SMS भेजा जा सकता है। कैरक्टर में बात करें तो आप एक मेसेज में 160 कैरक्टर ही सेंड कर सकते हैं।

Question: क्या टेक्स्ट मैसेज और SMS में अंतर है?

शॉर्ट मैसेज सर्विस (SMS) और टेक्स्ट मैसेजिंग (Texting) एक ही चीज़ को कहा जाता है अर्थात इसमें कोई अंतर नहीं है।

Question: पहला SMS किसके द्वारा भेजा गया था?

इसे सबसे पहले Neil Papworth द्वारा 3 दिसंबर 1992 को भेजा गया था।

Question: एक दिन में प्रति सिम कितने SMS भेजे जा सकते हैं?

पहले आप एक सिम कार्ड से 100 SMS प्रति दिन भेज सकते थे लेकिन अब TRAI द्वारा यह सीमा बढाकर 200 SMS प्रति दिन प्रति सिम कर दी गई है।

Question: क्या एक बार में 100 SMS भेज सकते हैं?

अगर आपके SMS application में 100 रिसीवर के number को ऐड करने का आप्शन है तो आप एक बार में अधिकतम 100 लोगों को मेसेज भेज सकते हैं।

Question: SMS का पूरा नाम क्या है?

SMS का पूरा नाम short message service है।

 

If you like information about SMS का फुल फॉर्म क्या है? – SMS full form in Hindi & English then share with your friends.

Leave a Comment