ISC का फुल फॉर्म क्या है? – ISC full form in Hindi & English

ISC का फुल फॉर्म क्या है? – ISC full form in Hindi & English:- ISC का फुल फॉर्म Indian School Certificate होता है। आपको बता दें ISC को 3 नवंबर 1958 को कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी द्वारा स्थापित किया गया था। इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट CISCE द्वारा आयोजित 12th की परीक्षा को संदर्भित करता है। ISC एक सर्टिफिकेट है जो उम्मीदवार को 12th कीई परीक्षा पास करने के बाद मिलता है। बता दें ISC बोर्ड में शिक्षा का स्तर CBSE और state level board से काफी ज्यादा अच्छा होता है। इस बोर्ड में अंग्रेजी विषय जरुरी होता है।

सिर्फ लैंग्वेज वाले पेपर को छोड़कर इस बोर्ड में सभी पेपर इंग्लिश में होते हैं। जो भी छात्र अपनी 12 th कक्षा ISC से पास करने हैं उन्हें पास अन्य बोर्ड के छात्रों को तुलना में अच्छे या ए-लेवल कॉलेज में एडमिशन मिलने की संभावना अधिक होती है।

ISC का फुल फॉर्म क्या है? – ISC full form in Hindi & English

ISC का फुल फॉर्म क्या है? – ISC full form in Hindi & English

सीधे शब्दों में कहें तो ISC एक सर्टिफिकेट है जो कि उम्मीदवारों को 12th की परीक्षा सफलतापूर्वक पास करने के बाद प्राप्त होता है। आजकल ISC डिग्री को छात्र बेहद पसंद करते हैं क्योंकि यह 12th के बाद उन्हें अन्य बोर्ड की तुलना में शिक्षा के अच्छे अवसर प्रदान करता है।

ISC परीक्षा के लिए पात्रता मानदंड (Eligibility Criteria for ISC Exam)

  • CISCE के वर्तमान निर्य्मों के अनुसार ISC के लिए केवल 12 कक्षा के छात्र ही उपस्थित हो सकते हैं जिन्होंने किसी भी CISCE से संबद्ध स्कूल से अपनी पढ़ाई की हो।
  • पार्ट टाइम कोर्स वाले या होम स्कूल वाले छात्र ISC परीक्षाओं में शामिल नहीं हो सकते।

ISC बोर्ड में विषय (Subjects in ISC Board)

ISC कोर्स में कई विषय हैं जो अन्य दूसरे बोर्ड की अपेक्षा काफी ज्यादा है। नीचे हमने ISC बोर्ड में शामिल विषयों की लिस्ट दी है।

अकाउंट (Accounts)
राजनीति विज्ञान (political Science)
रसायन शास्त्र (Chemistry)
भौतिक विज्ञान (Physics)
भूगोल (Geography)
पर्यावरण शिक्षा (Environmental education)
जीवविज्ञान (biology)
गणित (mathematics)
इतिहास (history)
अर्थशास्त्र (Economics)
अंग्रेज़ी (English)

 

ISC कोर्स की अवधि (Duration of ISC Course)

ISC कोर्स दो साल में ही पूरा होता है। क्योंकि यह 11th की शुरुआत में शुरू होता है और कक्षा 12 की परीक्षा सफलता पूर्वक पास करने के बाद खत्म होता है।

ISC और CBSE के बीच क्या अंतर है (What is the difference between ISC and CBSE)

ISC और CBSE बोर्ड के बीच कई सारे अंदर हैं जिनके बारे में हमने यहाँ बात की है।

  • ISC को प्राइवेट संस्था द्वारा कंट्रोल किया जाता है और CBSE सरकार द्वारा संचालित किया जाता है।
  • ISC बोर्ड CBSE की तुलना में काफी पुराना है।
  • ISC का सिलेब्सी CBSE की तुलना में ज्यादा बड़ा होता है।
  • CBSE की तुलना में ISC में इंग्लिश लैंग्वेज का महत्व ज्यादा है।

 

If you like information about ISC का फुल फॉर्म क्या है? – ISC full form in Hindi & English then share with your friends.

Leave a Comment