BDO का फुल फॉर्म क्या है? – BDO full form in Hindi & English

BDO का फुल फॉर्म क्या है? – BDO full form in Hindi & English:- Full form of BDO in Hindi: BDO का फुल फॉर्म Block Development Officer होता है जिसे हिंदी में प्रखंड विकास अधिकारी कहा जाता है। एक BDO जिस ब्लॉक का अधिकारी होता है वहां पर वह विभिन्न गतिविधियों और विकास के कार्य को देखता है। Block Development Officer अपने ब्लॉक में चल रही सभी योजनाओं और विकास से जुड़े सभी कार्यक्रमों की निगरानी रखता है। BDO यह सुनिश्चित करता है कि जिन भी योजनाओं को संबंधित ऑफिसर्स द्वारा एप्रूव्ड किया गया हैं उन पर ठीक से काम हो रहा है या नहीं।

BDO का फुल फॉर्म क्या है? – BDO full form in Hindi & English

BDO का फुल फॉर्म क्या है? – BDO full form in Hindi & English

Block Development Officer कैसे बने (How to become a Block Development Officer in Hindi)

BDO का पद एक बहुत ही सम्मान वाला पद है जो राज्य सरकार के अंतर्गत आता है। आपको बता दें कि Block Development Officer के चयन के लिए परीक्षा का आयोजन राज्य लोक सेवा आयोग द्वारा प्रशासनिक सेवा के द्वारा होती है। जो भी उम्मीदवार लिखित परीक्षा को पास कर लेते हैं तो उम्मीदवारों को एक इंटरव्यू को पास करना होगा।

BDO बनने के लिए पात्रता मानदंड (Eligibility Criteria to become a BDO in Hindi)

जो भी उम्मीदवार BDO बनना चाहता है तो इसके लिए उसके पास किसी भी मान्यता प्राप्त कॉलेज या यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन होना जरुरी है। आर्ट, कॉमर्स और साइंस किसी भी क्षेत्र में ग्रेजुएशन करने वाला उम्मीदवार BDO की परीक्षा के लिए आवेदन कर सकता है। बता दें कि डिप्लोमा वाले छात्र इस परीक्षा में शामिल नहीं हो सकते।

आयु सीमा (Age limitation)

BDO के पद के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवार की उम्र 21 से 35 वर्ष के बीच होना चाहिए। हालांकि, आरक्षित श्रेणियों को आयु सीमा में छूट दी जाती है।

BDO के कार्य (Functions of BDO in Hindi)

एक Block Development Officer के विभिन्न कार्य होते हैं जिनके बारे में हमने नीचे जानकारी दी है।

  • BDO कृषि आपूर्ति को स्टोर का कार्य और उसे वितरण करने का कार्य देखता है।
  • वह विभिन्न अभियानों और कार्यक्रमों में भाग लेता है।
  • ग्राम सभा और पंचायत समिति की बैठकों में शामिल होना।
  • पंचायत समिति फंड से राशी का वितरण करना।
  • पंचायत द्वारा शूरू की गई सभी योजना और निर्माण परियोजना के दिशा-निर्देशों का पालन करना और सही समय पर काम पूरा करवाना।
  • BDO रणनीति बनाने में पंचायतों की मदद करता है और पंचायत समिति की प्राथमिकताओं और योजनाओं कर पालन करता है। इसके अलावा वह यह भी सुनिश्चित करता है कि पंचायत के निर्माण के कार्यक्रम सही समय पर हो पायें।
  • BDO वार्षिक बजट तैयार करता है और फिर पंचायत समिति के साथ इसे शेयर करता है।
  • वह प्रोग्रेस रिपोर्ट तैयार करता है और उसे पंचायत समिति के अलावा राज्य सरकार और जिला परिषद के साथ भी शेयर करता है।
  • अपने क्षेत्र में किसी भी महामारी, आपदा जैसे बाढ़ या आग की स्थिति में यह बचाव और राहत का काम भी करवाता है।
  • Block Development Officer एक सचिव के रूप में पंचायत समिति एवं स्थायी समितियों की बैठकों की सुचना जारी करने का कार्य भी करता है।

If you like information about BDO का फुल फॉर्म क्या है? – BDO full form in Hindi & English then share with your friends.

Leave a Comment